अंग्रेजों ने भारत को क्यों आजाद किया था?Why-British-liberate-India?

  • आखिर क्या कारण थे कि अंग्रेज भारत छोड़ने पर विवश हो गए ? (Angrejo ne Bharat Kiyu chhora)



भारत को आजाद क्यों किया था?

भारत आज एक स्वतंत्र देश है। सैकड़ों वर्षों तक मुगलों और अंग्रेजों के गुलामी के बाद हमें अंततः 15 अगस्त 1947 को आजादी प्राप्त हुई। बहुत सारे बलिदान के बाद आज हमें यह आजादी प्राप्त हुई है। 

आज हम खुली हवा में सांस ले सकते हैं, जो मर्जी हो वह कर सकते हैं। परंतु पहले ऐसा नहीं था, बहुत सारे दर्द और परेशानियां देखे हैं भारत नें तब जाकर हमें आज यह आजादी प्राप्त हुई है।


Why did the British liberate India?

Angrejo ne Bharat Kiyu chhora
तो आज हम लोग भी इस विषय पर चर्चा करेंगे और यह जानेंगे कि अंग्रेजों नें भारत को आजाद क्यों किया था?

Angrejo ne Bharat Kiyu chhora

 

आंदोलन :


भारत को आजाद करने के लिए कई आंदोलन चलाए गए। वर्ष 1920 में गांधी जी द्वारा असहयोग आंदोलन शुरू हुआ। यह आंदोलन कितना तेज चला कि इससे अंग्रेजों की सत्ता काफी प्रभावित हुई और आंदोलन जोर शोर से चलने लगा। 

परंतु आंदोलन के एक समूह ने एक पुलिस स्टेशन पर आक्रमण कर उस में आग लगा दी। इससे कई पुलिस वालों की जान चली गई जो कि भारतीय थे। इससे गांधीजी बहुत प्रभावित हुए और आंदोलन बंद कर दिया।
इसके बाद दूसरा आंदोलन 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत हुई। जिसे किसी कारणवश फिर से गांधी जी ने बंद कर दिया।

angrej bharat kiyu chora


द्वितीय विश्व युद्ध :

अगर हम बात करें अंग्रेजों के भारत छोड़ने की तो इसका सबसे बड़ा कारण था द्वितीय विश्व युद्ध (Second World war). 1939 से 1945 के बीच का यह युद्ध मानव इतिहास का सबसे खतरनाक युद्ध रहा है, जिसमें दस करोड़ लोगों की जान गई। 

द्वितीय विश्व युद्ध आरंभ करने का सारा श्रेय एडोल्फ हिटलर को हि जाता है। पर सच यह है कि अगर हिटलर ना होता और द्वितीय विश्वयुद्ध ना हुआ होता तो भारत को आजाद होने में कितना समय लगता यह कहना मुश्किल है। क्योंकि द्वितीय विश्व युद्ध में सबसे ज्यादा नुकसान ब्रिटेन को हुआ था जिससे ब्रिटिश सरकार की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से कंगाल हो गई थी।


Angrejo ne Bharat Kiyu chhora


अंग्रेजों की अर्थव्यवस्था :


अंग्रेजों का सबसे ज्यादा नुकसान हिटलर और सुभाष चंद्र बोस ने किया था। सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज ने अंग्रेजों की नाक में दम कर रखा था। अब अंग्रेजों की सबसे चिंता का विषय सुभाष चंद्र बोस थे। अंग्रेजों को अब सुभाष चंद्र बोस से डर लगने लगा था। 

द्वितीय विश्व युद्ध के कारण अंग्रेजों की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से खराब हो चुकी थी। अब ना ही उनके पास सैनिक बचे थे और ना ही उनके पास इतने धन बचे थे कि वह दूसरे हुकूमत पर अपना राज कायम रख सके। भारत के लोग व सैनिक अंग्रेजो के खिलाफ काफी ज्यादा भड़क चुके थे, उनकी संख्या इतनी कम थी कि वे भारत के लोगों के सामने नहीं टिक पाते। 

इसलिए उन्हें मजबूरन भारत को आजाद करना पड़ा और भारत ही नहीं बल्कि उन्होंने कई देशों को एक साथ आजाद किया और सारे अंग्रेज अपने देश इंग्लैंड लौट गए।

Keyword: Angrejo ne Bharat Kiyu chhora, bharat kiyu ajad hua, Why did the British liberate India, bharat ki khoj kisne ki, british samrajya, mughal samrajya, indian history, reyomind, angrej bharat, 



आपको यह पोस्ट कैसा लगा कृपया कमेंट करके बताएं, और इसी तरह के पोस्ट आगे पढ़ने के लिए हमारी वेबपेज को फॉलो कीजिए।

Post a comment

2 Comments

Thanks for comment! Keep reading good posts in Reyomind.com Have a good day !